जानिए.. राजीव गांधी से बदला लेने के लिए किस फिल्म स्टार ने बनाई राजनीतिक पार्टी

politics, Tollywood

देश के छठे प्रधानमंत्री राजीव गांधी की आज यानी 21 मई को पुण्यतिथी है। इस अवसर पर हम आपको उनसे जुड़ा एक किस्सा बताएंगे। ये बात बहुत कम लोग जानते होंगे की राजीव गांधी से बदला लेने के लिए एक अभिनेता ने राजनीतिक पार्टी बनाई। पार्टी बनाने के बाद जब चुनावी मैदान में उतरी तो भारी बहुमत से वो चुनाव जीत गई और आज देश की सबसे प्रमुख पार्टी है। जी हां.. हम बात कर रहे है ‘तेलुगुदेशम पार्टी (टीडीपी)’ की। बता दें कि इस पार्टी की नीव एक अभिनेता ने रखी थी। इस पार्टी का मकसद समाज सुधारना या लोगों की भलाई तो बिल्कुल नहीं था, इस पार्टी का सिर्फ एक ही लक्ष्य था, राजीव गांधी से बदला।

बात उस समय की है जब साल 1982 में संजय गांधी की मौत हो गई थी और कांग्रेस का पदभार राजीव गांधी को सौंपा गया था। बतौर कांग्रेस अध्यक्ष राजीव गांध आंध्रप्रदेश पहुंचे थे। उनका विमान हैदराबाद के बेगमपेट में उतारा गया था। कांग्रेसियों को जैसे ही इस बात की भनक पड़ी तो वो सभी उन्हें देखने को बेगमपेट पहुंच गए। राजीव गांधी को वहां लेने खुद तत्कालीन आंध्रप्रदेश मुख्यमंत्री टी अंजैया पहुंचे थे, लेकिन भीड़ को देख राजीव घबरा गए।

टी अंजैया को इस बात की जरा भी जानकारी नहीं थी कि राजीव गांधी को वहां मौजूद कार्यकर्ताओं से दिक्कत होगी, इसलिए उन्होंने ने भी भीड़ को हटाने के लिए को इंतजाम नहीं किए। भीड़ का इंतजाम ना करने पर राजीव का गुस्सा बढ़ गया और वो अंजैया पर चिल्ला दिए। उन्होंने अंजैया को मसखरा तक कह डाला। अंजैया का यह सार्वजनिक अपमान तेलुगु सुपरस्टार एनटी रामाराव को चुभ गया। इसे तेलुगु अस्मिता पर ह’मला माना गया।

इस घटना के कुछ दिनों बाद इंदिरा ने अंजैया को इस्तीफा देने के लिए कह दिया। जिस दिन अंजैया ने इस्तीफा दिया उससे एक दिन पहले उनके समर्थन में तीस हजार लोगों की भीड़ जुटी थी। उसके बाद उनकी जगह भावानम वेंकटरामी रेड्डी को आंध्र का नयी मुख्यमंत्री बनाया गया। इसके बाद एनटीरामाराव ने तेलुगु देशम पार्टी (टीडीपी) की स्थापना कर डाली। अगले ही साल टीडीपी चुनाव में उतरी।

राजीव के द्वारा अंजैया के अपमान को चुनावी मुद्दा बना दिया था। टीडीपी को भारी बहुमत मिला। एक साल के अंदर ही पार्टी ने विधानसभा की 294 में 201 सीटें जीत लीं। आपको बता दें, टीडीपी आंध्र प्रदेश प्रांत की एक प्रमुख राजनैतिक पार्टी है। तेलुगू फिल्मों के अभिनेता एन टी रामाराव के जमाने में इस पार्टी का अभ्युदय हुआ था, बाद में चंद्रबाबू नायडू इसे नई ऊचाइयों पर ले गए।

 

Leave a Reply